By: Boldsky Video Team
Published : September 12, 2017, 12:37

Jivitputrika vrat: जीवित्पुत्रिका व्रत की कथा और शुभ मुहूर्त

Subscribe to Boldsky

आश्विन मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को पुत्र की लंबी आयु व उत्तम स्वास्थ्य के लिए जीवितपुत्रिका व्रत किया जाता है। इसे जिऊतिया व जीमूतवाहन व्रत भी कहते हैं। संतान के स्वस्थ, सुखी और दीर्घायु होने की कामना के लिए माताएं जीवित्पुत्रिका व्रत करती हैं। पुराणों में कहा गया है कि इस व्रत को रखने वाली स्त्रियों को कभी पुत्र शोक से संतप्त नहीं होना पड़ता। आइए जानते है जीवित्पुत्रिका व्रत 2017 के शुभ मुहूर्त के बारें में

Please Wait while comments are loading...