By : BoldSky Video Team
Published : October 30, 2021, 04:20
Duration : 02:49

हैलोवीन 2021: हैलोवीन क्यों मनाया जाता है | हैलोवीन की असली कहानी

हैलोवीन पश्चिमी देशों में धूमधाम से मनाया जाने वाला त्यौहार है. इस त्यौहार के लिए सभी अपने-अपने अंदाज़ में तैयारियां करते हैं. बच्चों के लिए ये पड़ौसी और रिश्तेदारों से चॉकलेट्स लेने का दिन है, वहीं बड़े इस दिन अपने पूर्वजों की आत्मा की शांति की प्रार्थना करते हैं. आमतौर पर लोग त्यौहार पर खूबसूरत कपड़ों में सजते हैं लेकिन ये त्यौहार कुछ अलग है. इस दिन लोग चला कर डरावना रूप बनाते हैं. आत्माओं और भूतों की तरह मेकअप किया जाता है. कपड़े भी इसी थीम के अनुसार चुने जाते हैं. यूरोप में सैल्टिक जाति के लोग मानते थे कि इस समय मृत लोगों की आत्माएं आकर संसारिक प्राणियों से साक्षात्कार करती हैं. वे सोचते थे कि उनके पुरखों की आत्मा धरती पर आएगी ,जिससे उनका फसल काटना आसान हो जाएगा. इसीलिए वे चुड़ेलें बनते और जानवरों के मौखटे, उनकी चमड़ी, उनके सिर पहनकर अलाव के आसपास नाचते -गाते थे. वे मानते थे कि कोई विशिष्ट सर्वोच्च प्राकृतिक शक्ति है. इसे ‘All Saints-Day’-All Hallows (holy) या Hallows Eve मानते थे , जो धीरे- धीरे Halloween बन गया. अमेरिका मे तो इसे कद्दू की खेती की कटाई के साथ भी जोड़ा जाता है. इस समय कद्दू बहुतायत में व बड़े- बड़े मिलते हैं, जिन्हें आसानी से काटा भी जा सकता है. सामने की तरफ इस पर डरावने तरीके से मुंह काटकर, बीच में जलती हुई मोमबत्ती रख देते हैं. जिन्हें पुरानी सदी की याद में रात को अँधेरे में घर की चौखट पर रखते हैं. इसे Jack-O-lanterns कहते हैं.
Follow BoldSky On
 
Get Instant News Updates
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X